मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने पहला बड़ा तोहफा दिया है

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने पहला बड़ा तोहफा दिया है.
 दरअसल, आरबीआई की ओर से एक बार फिर रेपो रेट में कटौती की गई है. 
आरबीआई की मौद्रिक समीक्षा बैठक में 0.25 बेस प्‍वाइंट की कटौती हुई है. 
इसी के साथ अब नई रेपो रेट 5.75% हो गई है. नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के दूसरे 
कार्यकाल में यह पहली मौद्रिक समीक्षा बैठक थी.
लगातार तीसरी बार कटौती
आरबीआई की पिछली दो बैठकों में भी एमपीसी रेपो रेट में क्रमश: 0.25  फीसदी की कटौती कर चुकी है
. यानी जून में लगातार तीसरी बार केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट घटाई है.
 वहीं रिजर्व बैंक के इतिहास में पहली बार है 
जब आरबीआई गवर्नर की नियुक्‍ति के बाद लगातार तीसरी बार रेपो रेट में कमी आई है. 
बता दें कि बीते दिसंबर महीने में उर्जित पटेल के इस्‍तीफे के बाद 
शक्तिकांत दास बतौर गवर्नर नियुक्‍त हुए थे.
क्‍या होगा आप पर असर
आरबीआई के रेपो रेट कटौती का फायदा आपको मिलेगा. दरअसल, आरबीआई के
 इस फैसले के बाद बैंकों पर ब्‍याज दर कम करने का दबाव बनेगा. 
ब्‍याज दर कम होने की स्थिति में उन लोगों को फायदा मिलेगा
 जिनकी होम या ऑटो लोन की ईएमआई चल रही है.
इसके अलावा बैंक से नए लोन लेने की स्थिति में भी पहले के मुकाबले ज्‍यादा राहत मिलेगी.

Comments

Popular posts from this blog

पैनल चर्चाएँ

नशे मे डूबा युवा वर्ग