Add

Sunday, 16 April 2017

पैनल चर्चाएँ

पैनल चर्चाएँ
पैनल चर्चा का आयोजन क्षेत्र विशेष घटना समसामयिक पहलू  के लिए की जाती है इसमें भेंटकर्ता एक पक्ष को लेकर अलग-अलग व्यक्तियों से चर्चा करता है अन्तर केवल इतना सा है कि भेंटवार्ता में वार्तालाप सवाल जवाब की शैली में होता है और पैनल चर्चा में सभी से केवल विषय केन्द्रित सवाल ही रख जाते है सभी भाग लेने वालों को एक ही दर्जा और महत्ता दी जाती है ऐसी वार्ता के अन्तर्गत अपने-अपने क्षेत्रों के प्रचंड विव्दान शामिल होते है पैनल चर्चा में भाग लेने वाले व्यक्ति एक ही पद के होते है और इनको कार्यक्रम निर्माता चुनता है
          पैनल चर्चा के लिए ऐसे विषय को लिया जाता है जो चर्चित होते है जिसमें वाद- विवाद किया जा सकता है आज बहुत सारे चैनलों में पैनल चर्चा की जाती है जैसे चुनाव को लेकर, उसमें सभी पार्टी के प्रवक्ता होते है और वह अपनी पार्टी के बारे में बताते है  पैनल चर्चा में बहुत सारे विषय पर, पक्ष और विपक्ष होते है  यही इस चर्चा की विशेषता होती है

No comments:

Featured post

शेर आया, शेर आया....

शेर आया, शेर आया.... सत्ता के शे में चूर, होकर भरपूर कर रहे नासमझी संविधान के साथ फूल बतमीजी सूरज कभी न कभी डूबता है पिछलों का डूब...